कैबिनेट मंत्री ने जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता की

राजस्व, बागवानी व जनजातीय विकास मंत्री जगत सिंह नेगी ने जिला के सभी अधिकारियों को विकास कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर समयबद्ध पूर्ण करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
जगत सिंह नेगी आज यहाँ जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उन्होंने सभी अधिकारियों को पंचायती राज संस्थाओं के साथ तालमेल बनाकर कार्य योजनाओं को तैयार करने के आदेश दिये ताकि जमीनी स्तर पर कार्यों को बेहतर तरीके से पूर्ण किया जा सके। उन्होंने कहा कि जिन विभागों का पैसा जिस कार्यकारी एजेंसी के पास गया है वह उन कार्यों में तेजी लायें और इन कार्यों को जल्द पूर्ण करें।
जगत सिंह नेगी ने कहा कि सभी विभाग क्षेत्र के हिसाब से ट्राइबल सब-प्लान बनाने में सक्रिय भूमिका निभायें और कार्यों में आ रही कठिनाइयों को सलाहकार समिति के समक्ष उठायें। उन्होंने लोक निर्माण विभाग तथा जल शक्ति विभाग को टेंडर प्रक्रिया को 10 दिन के भीतर करने तथा उन्हें तुरंत अवार्ड करने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त जो ठेकेदार समय पर कार्य पूर्ण नहीं करते उन्हें ब्लैक लिस्ट करें।

नशा निवारण की दिशा में करें कार्य
कैबिनेट मंत्री ने नशे की लत में घिरे लोगों के परिवार वालों से मिलकर उन्हें नशा निवारण के लिए प्रेरित करने को कहा। उन्होंने उपमंडल दण्डाधिकारी कल्पा को इस कार्य के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी, पुलिस विभाग, नेहरू युवा केंद्र आदि की सहायता से नशे की लत छुड़वाने के लिए लोगों को नशा निवारण केंद्रों में भेजने के लिए कहा।

पर्यटन के तहत जन सुविधाओं को करें सुदृढ़
जगत सिंह नेगी ने पर्यटन विभाग को रिकांगपिओ स्थित टूरिस्ट इनफार्मेशन सेंटर की कायाकल्प करने तथा जिला में पर्यटकों की सुविधा हेतु विभिन्न प्रोजेक्ट कंपनियों की सहायता से हर 20-25 किलोमीटर की दूरी पर जनसुविधाओं का प्रावधान सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

आपदा की स्थिति से निपटने के लिए करें पुख्ता प्रबंध
कैबिनेट मंत्री ने अधिकारियों को जिला में आपदा की स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने गृह रक्षा विभाग को जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के माध्यम से राहत कार्यों हेतु नवीनतम औजार उपलब्ध करवाने के निर्देश देते हुए गृह रक्षा के जवानों तथा स्व्यंसेवकों के लिए समय-समय पर कार्यशाला आयोजित करवाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को भूस्खलन वाले संभावित क्षेत्रों में पानी के रिसाव बारे जाँच करने के निर्देश दिए।

आरटीआई का जवाब निर्धारित समय से पहले दें अधिकारी
जगत सिंह नेगी ने सभी अधिकारियों को आरटीआई का जवाब निर्धारित समय से पहले देने के आदेश दिये। उन्होंने कहा कि जो भी अधिकारी इस दिशा में कोताही बरतेगा उसके विरुद्ध सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

जिला में सुदृढ़ करें रोडत्र, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं विद्युत सुविधाएँ

उन्होंने आयुष विभाग तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को बिना डॉक्टर वाले स्वास्थ्य केंद्रों में नई नियुक्तियां होने तक नजदीकी केंद्र से चिकित्सकों की ड्यूटी रोटेशन के आधार पर लगाने को कहा ताकि लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएँ मिलती रहें। उन्होंने जिला के शिक्षण संस्थानों में भी शिक्षा की गुणवत्ता को और सुदृढ़ करने के निर्देश दिए तथा इसी दिशा में सभी कंप्यूटर लैब, साइंस लैब, स्मार्ट क्लास जैसी अत्याधुनिक सुविधाओं को पूर्ण रूप से उपयोग में लाने को कहा। उन्होंने जिला के विद्यालयों में कक्षा 6 से 12वीं तक अंग्रेजी मीडियम में शिक्षा प्रदान करने के भी निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त उन्होंने जिला में लोगों को गुणवत्ता पूर्ण विद्युत आपूर्ति उपलब्ध करवाने को कहा। जगत सिंह नेगी ने लोक निर्माण विभाग को जिला की सभी सड़कों की मुरम्मत करने और वर्षों से चल रहे निर्माण व मुरम्मत कार्यों को जल्द पूर्ण करने को कहा।
उपायुक्त किन्नौर सुरेंद्र सिंह राठौर ने जगत सिंह नेगी का टोपी व मफलर भेंट कर स्वागत किया तथा उन्हें आश्वासन दिया की उनके निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाएगा।
बैठक के अंत में सहायक आयुक्त राजेंद्र कुमार गौतम ने धन्यवाद संबोधन प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक विवेक चाहल, वन-मण्डलाधिकारी अरविंद कुमार, उपमंडल दण्डाधिकारी कल्पा डॉ. मेजर शशांक गुप्ता, उपमंडल दण्डाधिकारी निचार बिमला वर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *