….अधिकारी फील्ड में जाकर जांचें निर्माण कार्यों की गुणवत्ता।

ज्वाली में अधिकारियों के साथ की विकास कार्यों बारे समीक्षा बैठक।

ज्वाली, 3 नवंबर : कृषि व पशुपालन मंत्री प्रो0 चंद्र कुमार ने विभागीय अधिकारियों को निर्धारित लक्ष्यों को समयबद्ध पूरा करने के साथ इनकी बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए हैं। वे आज शुक्रवार को ज्वाली में लोक निर्माण विश्राम गृह में विभागीय अधिकारियों के साथ विधानसभा क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।
कृषि मंत्री ने कहा कि निर्माण कार्यों में देरी से जहां इसकी अनावश्यक लागत बढ़ती है वहीं अन्य विकास कार्यों पर भी असर पड़ता है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों के लिए धन की कोई कमी नहीं है। उन्होंने अधिकारियों से क्षेत्र की जरूरतों के अनुरूप योजनाएं तैयार करने को कहा जिसके लिए अतिरिक्त बजट की व्यवस्था करवाई जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्माण कार्यों की बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित बनाने के लिए समय-समय पर फील्ड में जाकर निरीक्षण करने के निर्देश दिए।
चंद्र कुमार ने कहा कि आपदा से प्रभावित परिवारों के पुनर्वास के लिए प्रदेश सरकार ने 4500 करोड़ रुपए के विशेष राहत पैकेज की घोषणा की है ताकि प्रभावित परिवारों का पुनरुत्थान सुनिश्चित हो सके । उन्होंने कहा कि प्रभावित परिवारों के पुनर्वास एवं पुनर्निर्माण कार्यों को शीघ्र पूरा करने में अधिकारियों तथा कर्मचारियों की भूमिका अब और बढ़ गई है। उन्होंने राहत एवं पुनर्वास कार्यों की प्रगति एवं ताजा स्थिति पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने आपदा के दौरान अधिकारियों तथा कर्मचारियों द्वारा किये गए बेहतरीन कार्य के लिए उनकी पीठ भी थपथपाई।
उन्होंने कहा कि इस वर्ष बेमौसमी बरसात के कारण काफी विकास कार्य प्रभावित हुए हैं। उन्होंने अधिकारियों को इस वित्त वर्ष की शेष अवधि के दौरान बजट को लंबित विकास कार्यों पर खर्च करने के निर्देश दिए।
चंद्र कुमार ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सड़कों, पुलों, सरकारी भवनों के निर्माण व रखरखाव के लिए जमा राशि की टेंडर प्रक्रिया को भी जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त ज्वाली-देहरा सड़क के सुधारीकरण के साथ ज्वाली बाज़ार में सड़क को चौड़ा करने व क्षेत्र की अन्य लिंक सड़कों के बेहतर रखरखाव के भी निर्देश दिए।


कृषि मंत्री ने जल शक्ति विभाग के अधिकारियों को जल जीवन मिशन के तहत निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए विशेष पग उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने पानी की कमी वाले क्षेत्रों में नए ट्यूबवेल लगाने की औपचारिकताओं को शीघ्र पूरा करने के लिए कहा। उन्होंने कोटला,ज्वाली तथा नगरोटा सूरियां के लिए स्वीकृत 80 करोड़ रुपए की सीवरेज योजना की औपचारिकताओं को जल्द पूरा करने के अधिकारियों निर्देश दिए।
उन्होंने विद्युत बोर्ड के अधिकारियों को कम वोल्टेज वाले क्षेत्रों में बिजली सुधार के लिए थ्री फेस ट्रांसफॉर्मर लगाने के अतिरिक्त बिजली के नए खंभे लगाने तथा नई लाइनें बिछाने के निर्देश दिए।
कृषि मंत्री ने ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारिओ को गांवों में मनरेगा के तहत शुरू किए गए मरम्मत एवं पुनर्निर्माण कार्यों को युद्धस्तर पर पूरा करने के निर्देश दिए।
इसके पश्चात,कृषि मंत्री ने जनसमस्याएं भी सुनीं तथा अधिकांश का मौके पर ही समाधान किया। जबकि शेष के समयबद्ध निपटारे हेतु सम्बंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।
एसडीएम बचित्र सिंह ठाकुर ने कृषि मंत्री का स्वागत किया। उन्होंने बैठक में दिए गए निर्देशों की अक्षरस अनुपालना सुनिश्चित करने का भरोसा दिया।

ये रहे मौजूद
इस अवसर पर एसडीएम बचित्र सिंह ठाकुर,डीएफओ नूरपुर अमित शर्मा, तहसीलदार ज्वाली कुलताज़, तहसीलदार नगरोटा सूरियां अजय कुमार,नायब तहसीलदार कोटला सीता राम, बीडीओ श्याम सिंह, जल शक्ति विभाग के अधिशासी अभियंता अजय शर्मा,बिजली बोर्ड के अधिशासी अभियंता आदर्श शर्मा, लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता मनोहर लाल शर्मा, उपमंडल भू-संरक्षण अधिकारी चंचल राणा, तहसील कल्याण अधिकारी अनूप कुमार सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *